आदरणीय बन्धुवर,
सादर जय श्रीराम
आशा है आप स्वस्थ्य व सानंद होंगे, इसी अपेक्षा के साथ आपको सूचना दे रहे हैं |
सनातन काल से हिन्दू समाज का संघर्ष हिन्दू विरोधी तत्वों से चला आ रहा है | हिन्दू धर्म विरोधी शक्तियाँ हिन्दुत्व को नष्ट करने का प्रयास करतीं रही है| समर्थक शक्तियाँ धर्म रक्षा का उपाय करती रही है | बड़े-बड़े महापुरुषों ने अपने जीवन की आहुति देकर सनातन धर्म की रक्षा की | आज भी चारों ओर से हिन्दुत्व को नष्ट करने के प्रयास हो रहे हैं और उनके साथ कुछ हिन्दू भी सहयोग कर रहे हैं, तो क्या समाज विरोधी, अधार्मिक लोग हिन्दू धर्म को नष्ट करने में समर्थ हो पाएंगे |
यदि हम अपने पवित्र हिन्दू धर्म को बचाना चाहते हैं और संताने हिन्दुत्व आधारित जीवन सम्मान से जी सकें, ऐसा चाहते हैं तो हमें धर्म रक्षा का उपाय करना पड़ेगा | हमें अपने धर्म की रक्षा करनी है | जो लोग हिन्दू धर्म छोडकर ईसाई या मुस्लिम धर्म में चले गए हैं किसी भी कारण से या किसी समय, उनको हिन्दू धर्म में वापिस लाना पड़ेगा, और उनको अपने पुरखों के घर वापिस आना पड़ेगा | यह होगी घर वापिसी| घर वापिसी ही हिन्दुत्व को बचाने की संजीवनी है | यह घर वापिसी करने में हमें तन, मन, धन से सहयोग करना है | एवं धन देकर व धन संग्रह में सहयोग देकर यह कार्य करना है | उपरोक्त घर वापिसी का कार्यक्रम एटा में आयोजित कर रहे हैं | कार्यक्रम निम्नवत है-
दिनांक – 23/12/2013, दिन- सोमवार समय – प्रातः 10 बजे से 3 बजे तक
स्थान – सरस्वती विद्या मन्दिर इंटर कॉलेज, जी. टी. रोड, एटा
मुख्य अतिथि – प. पू. जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज

उपरोक्त कार्यक्रम में आप सादर आमंत्रित हैं आपके सहयोग एवं आगमन से हिन्दू समाज एवं धर्म की रक्षा होगी एवं समाज मजबूत होगा| इसी अपेक्षा के साथ –

भवदीय
धर्म जागरण समिति, ब्रज प्रांत